Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

मुख्यमंत्री ने ED के समन का भेजा जवाब, कहा- 31 मार्च तक बिजी नहीं दे सकता समय

रांची : जमीन घोटाला मामले में नौवां समन मिलने के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गुरुवार को ईडी को जवाब भेजा। मुख्यमंत्री सचिवालय से भेजे गये पत्र के जरिये दिये गये जवाब में व्यस्तता का हवाला दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि वह 31 मार्च तक पूछताछ के लिए उपलब्ध नहीं होंगे।

ईडी ने मुख्यमंत्री से पूछताछ के लिए 27 से 31 जनवरी के बीच पूछताछ के लिए समन भेजा था। हालांकि, मुख्यमंत्री ने 20 जनवरी को पूछताछ के बाद अपने व्यस्त कार्यक्रम की वजह से मार्च तक पूछताछ नहीं करने की बात कही थी। इसके बाद ईडी ने मुख्यमंत्री को नौवां समन जारी किया। 20 जनवरी को ईडी अधिकारियों ने सीएम के आवास पर करीब सात घंटे पूछताछ की थी।

गौरतलब है कि वैध तरीके से जमीन खरीद-फरोख्त के मामले में झारखंड, बंगाल व बिहार के 22 ठिकानों पर 13 अप्रैल 2023 को ईडी ने छापेमारी की थी। ईडी ने सात आरोपितों बड़गाईं अंचल के अंचलाधिकारी भानु प्रताप प्रसाद, फर्जी कागजात तैयार करने वाले अफसर अली, सद्दाम, इम्तियाज अहमद, तल्हा खान, प्रदीप बागची व फैयाज खान को गिरफ्तार किया।

ईडी ने सेना के कब्जे वाली जमीन के मूल कागजात को भी जब्त कर फॉरेंसिक जांच कराई। पता चला कि जमीन के कागजात में रैयत के नाम में फेरबदल किया गया है। इन दस्तावेजों की छानबीन और उनसे जुड़े तथ्यों के सत्यापन को लेकर ईडी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से पूछताछ कर रही है।

Jharkhand Breaking News Today