Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Saturday, June 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड में आदिवासियों के लिए आरक्षित पांच लोकसभा सीटों पर भाजपा को झटका

रांची : लोकसभा चुनाव में भाजपा राज्य में आदिवासियों के लिए आरक्षित सभी पांच लोकसभा सीटों से चुनाव हार चुकी है। बस इसकी आधिकारिक घोषणा होनी बाकी है। पांच में से तीन सीटों पर झामुमो और दो सीटों पर कांग्रेस ने जीत हासिल की है। राजमहल, दुमका और सिंहभूम लोकसभा सीट पर झामुमो ने कब्जा जमाया है जबकि खूंटी और लोहरदगा लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की है।

इस बार इंडी गठबंधन को झारखंड में 2019 के मुकाबले तीन सीटें ज्यादा मिली हैं। राजमहल और सिंहभूम सीट पर इंडी गठबंधन दोबारा कब्जा जमाने में कामयाब रही। साथ ही भाजपा के हाथ से दुमका, लोहरदगा और खूंटी लोकसभा सीट को झटक लिया है। झारखंड में भाजपा के लिए यह बहुत बड़ा झटका है।

राजमहल लोकसभा सीट से झामुमो के प्रत्याशी विजय हांसदा भाजपा के ताला मरांडी से 112293 वोटों से आगे चल रहे हैं। अबतक जो अपडेट है उसके मुताबिक विजय हांसदा को 461407 वोट मिले हैं जबकि ताला मरांडी को 349214 वोट हासिल हुए।

दुमका लोकसभा सीट से झामुमो के नलिन सोरेन ने शिबू सोरेन की बड़ी बहू सीता सोरेन को मात दी है। नलिन सोरेन सीता से 21589 वोट से आगे चल रहे थे। सीता सोरेन चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हुई थीं लेकिन जनता ने उन्हें नकार दिया। सिंहभूम लोकसभा सीट पर भाजपा की शर्मनाक हार हुई है। सिंहभूम से झामुमो की प्रत्याशी जोबा मांझी भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा से 160970 वोट से आगे थीं। गीता कोड़ा सिंहभूम की सीटिंग सांसद हैं। वे चुनाव से पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुई थीं लेकिन जनता ने उन्हें नकार दिया।

लोहरदगा लोकसभा सीट भी भाजपा ने गंवा दी है। कांग्रेस प्रत्याशी सुखदेव भगत भाजपा के समीर उरांव से 1.27 लाख वोट से आगे चल रहे थे। वर्ष 2009 से 2019 तक लगातार इस सीट पर भाजपा का कब्जा था लेकिन इस बार परिवर्तन की लहर चली। भाजपा सबसे अधिक वोट से खूंटी लोकसभा सीट पर चुनाव हारी है। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा खूंटी से 01 लाख 45 हजार से ज्यादा वोटों से पीछे चल रहे थे। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में अर्जुन मुंडा से मात्र 1400 वोट से हारने वाले कांग्रेस के कालीचरण मुंडा ने इस बार उन्हें भारी मतों से पछाड़ा है।

Jharkhand Lok Sabha Election Result 2024