Breaking :
||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस
Saturday, June 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहारहेरहंज

लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण

लातेहार : हेरहंज थाना क्षेत्र के नवादा गांव अंतर्गत अंबवाटोली टोला स्थित फायरक्ले खदान के तालाब में डूबने से एक नाबालिग बच्चे की मौत हो गयी। मृतक की पहचान स्वर्गीय सुधीर उरांव के पुत्र प्रेम उरांव (10) के रूप में की गयी। ग्रामीण तालाब में बच्चे के शव की तलाश कर रहे हैं।

Herhanj Latehar Latest News

ग्रामीणों ने बताया कि प्रेम उरांव अपनी बहन मधु कुमारी व एक अन्य महिला के साथ इस खदान के तालाब में नहाने आया था। नहाने के दौरान वह गहरे पानी में डूब गया। इसके बाद वह बाहर नहीं आ सका। घटना के बाद साथ गयी बहन व महिला ने शोर मचाया उनकी शोर सुनकर गांव के लोग मौके पर पहुंचे। इसके बाद बच्चे की तलाश शुरू की।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस घटना की सूचना प्रखंड विकास पदाधिकारी सह अंचलाधिकारी प्रदीप कुमार दास व थाना प्रभारी विक्रम कुमार को दे दी गयी है। हालांकि सूचना मिलने के बाद भी कोई मौके पर नहीं पहुंचा। समाचार लिखे जाने तक बच्चे के शव की तलाश जारी थी।

ग्रामीणों के अनुसार यह खदान नंबर एक फायरक्ले खदान के नाम से जानी जाती है। इस खदान को 2000 ई. से पहले तनाजा कंपनी चलाती थी। खदान की गहरायी करीब 30 फीट बतायी जाती है। घटना के बाद से मां मंजू मसोमात का रो-रोकर बुरा हाल है। दो बहनों के बीच एक छोटा भाई था। पिता की मौत को 8 साल हो गये हैं।

Herhanj Latehar Latest News