Breaking :
||झारखंड के 248 पारा शिक्षक गायब, 232 ने छोड़ी नौकरी, 5 दिसंबर तक मिला मौका||झारखंड में छह साल से नहीं हुई जेटेट परीक्षा, हाईकोर्ट में याचिका दायर||मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार समेत चार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी||मुख्यमंत्री विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को नहीं मिली जमानत||लातेहार: बालूमाथ में कोयला कारोबारियों से व्हाट्सएप कॉल कर रंगदारी मांगने वाला TSPC का एरिया कमांडर गिरफ्तार, भेजा जेल||हेमंत सरकार तीन वर्ष पूरे होने पर सुखाड़ प्रभावित 22 जिलों के किसानों को देगी तोहफा, आवेदन शुरू||झारखंड: ऑनलाइन गेम में मिली हार से परेशान बच्चे ने कर ली खुदकुशी, माता-पिता हो जायें सावधान!||पलामू में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म, वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किया शारीरिक शोषण||बूढ़ा पहाड़ से फिर मिले 12 केन IED बम, किया गया नष्ट||सीओ हेमा प्रसाद व अन्य के खिलाफ होगी ACB जांच, सीएम हेमंत सोरेन ने दी मंजूरी

बूढ़ा पहाड़ से फिर मिले 12 केन IED बम, किया गया नष्ट

गढ़वा : नक्सलियों का गढ़ माने जाने वाले बुढ़ा पहाड़ में सुरक्षा बल लगातार नक्सलियों को खदेड़ने के लिए विशेष अभियान चला रहे हैं। सर्च ऑपरेशन भी जारी है। इस बीच गुरुवार को एक बार फिर नक्सलियों द्वारा सर्च ऑपरेशन चला रहे जवानों को निशाना बनाने के लिए रखे गए 12 केन आईआईडी बम पुलिस की गिरफ्त में आ गये, अन्यथा भारी नुकसान की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता था।

एसपी अंजनी कुमार झा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि बूढा पहाड़ से नक्सलियों को खदेड़ने के बाद लगातार सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। इसी क्रम में 12 आईईडी विस्फोटक मिले हैं। इससे पहले शनिवार को सर्च ऑपरेशन के दौरान पुलिस बल ने 120 आईईडी बरामद किया था। तलाशी अभियान में आईईडी के अलावा नक्सली साहित्य, आपसी संवाद के लिए इस्तेमाल होने वाले वायरलेस सेट, बड़ी मात्रा में नक्सलियों की वर्दी भी बरामद हुई थी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पुलिस के मुताबिक, इससे पहले 31 अक्टूबर को 200 आईईडी बरामद किए गए थे। बुढ़ा पहाड़ में सीआरपीएफ की 172 और 62 बटालियन, झारखंड जगुआर और कोबरा 203 बटालियन का संयुक्त अभियान चल रहा है।

19 अक्टूबर को तलाशी अभियान के दौरान दो ग्रेनेड, 51 आईईडी और अन्य विस्फोटक बरामद किए गये थे।

वहीं, 18 अक्टूबर को 22 आईईडी, दो वायरलेस सेट, डेटोनेटर समेत अन्य सामग्री बरामद की गयी थी। पुलिस ने कहा कि अभियान में लगी पुलिस बल को जरा सी चूक से भारी नुकसान हो सकता था।