सावधान! ब्लैक फंगस ने दी गांवाें में दस्तक, लातेहार और गढ़वा के एक-एक मरीज की गई जान

दाेनाें मरीजाें का रिम्स में चल रहा था इलाज

ब्लैक फंगस ने गांवाें में दस्तक दे दी है। लातेहार और गढ़वा के एक-एक मरीजा की माैत बुधवार को हाे गई। लातेहार के बारियातू में बरनी निवासी मिठू गंझू (38) ने रिम्स रांची में इलाज के दौरान दम ताेड़ दिया। वहीं, गढ़वा के रमना चुंदी गांव निवासी चतुर्गुण परहिया (55) की मौत भी रिम्स में इलाज के दौरान हो गई।

मिठू के भाई अजय गंझू ने बताया कि कोरोना जांच के लिए बालूमाथ अस्पताल में 16 मई को सैंपल लिया गया था। 19 मई को रिपोर्ट पाॅजिटिव आई। 21 मई को भाई की तबीयत ज्यादा खराब हो गई ताे बालूमाथ अस्पताल से लातेहार ले गए। वहां बायीं आंख में सूजन होने के कारण रिम्स भेज दिया गया। रिम्स में 23 को रिपाेर्ट निगेटिव आई। आंखाें में सूजन काे देखते हुए डाॅक्टर ने जांच के बाद ब्लैक फंगस का लक्षण बताया। इलाज के दाैरान मंगलवार की रात उसकी तबीयत बिगड़ गई और बुधवार की सुबह करीब नाै बजे मौत हो गई। मृतक अपने पीछे पत्नी दशनी देवी, चार बेटी सुकरमनी, सोनी, सकुंती, कुंती और बेटा सुनील काे छाेड़ गए हैं।

इधर, गढ़वा के रमना चुंदी गांव निवासी चतुर्गुण परहिया (55) की मौत भी रिम्स में इलाज के दौरान हो गई। 10 दिन पहले चतुर्गुण की तबीयत खराब हुई थी। फिर अचानक आंखाें से दिखाई देना बंद हाे गया। परिजन उन्हें सदर अस्पताल गढ़वा ले गए। वहां से रिम्स रेफर किया गया था। बुधवार को उनकी मौत हो गई।

Leave a Reply